Featured Post

Happyness

 खुश रहना हर व्यक्ति की चाहत है परन्तु अपनी खुशी को हम किसी व्यक्ति, वस्तु भोग पूर्ति व अन्य कारणों से चाहते है और वह वस्तु स्वयं की ख़ुश...

कोरा कागज और में

कोरा कागज और में कोरा कागज और में दोस्त हैं, बचपन के। जब पहली बार देखा कोर कागज, तो देखा में भी उस के जैसा कोरा हू। अब कोर कागज मुझे बुलाता ...
Read More

प्यार का उपन्यास

हर पंक्ति अधूरी  लिखी गई है, मेरे प्यार के उपन्यास में। जब भी पी से मिलन की पंक्ति आती है, बिछड़ने की पंक्ति लिखी गई है, मेरे प्यार के उपन्य...
Read More

Happyness

 खुश रहना हर व्यक्ति की चाहत है परन्तु अपनी खुशी को हम किसी व्यक्ति, वस्तु भोग पूर्ति व अन्य कारणों से चाहते है और वह वस्तु स्वयं की ख़ुश...
Read More
" धर्म छेत्रे कुरुचित्रे समवेता युयुतसव : | मामका : पांण्डवाचैव किम कुर्वत संजय | | " शरीर को धारण कर उस शरीर से कर्म करने पर, उस ...
Read More

भव सागर

क्या मैंने इस भव सागर में इस लिए प्रवेश किया है कि में भव के भावों में बहता जाऊ। मुझे एक गहरे गोते खाने की जरूरत है, और ढूंढ  लाऊ वो अनमोल...
Read More
4 stage of god

4 stage of god

4 stage of god पहली अवस्था में सभी वस्तुओं का बाह्य निर्माण god द्वारा होता है | ( जैसे हमारे शरीर का विकास, निर्माण और अनुपयुक्त अंग या वस्...
Read More