Original

Original :



कोन  कहता कि तुम कली बनो गुलाब की,
न ही खुशबू रात की रानी सी बनो।
जैसे हो वैसे बानो एक दम original.
रंग धरती से न  बनो और ना  ही,
पारदर्शी आकाश सा बनो।
जैसे हो वैसे बनो एक दम original.
Newest
Previous
Next Post »